छत्तीसगढ़ सरकार की श्रद्धांजलि योजना।shraddhanjali yojana. - हमर गांव

Latest

Saturday, 13 October 2018

छत्तीसगढ़ सरकार की श्रद्धांजलि योजना।shraddhanjali yojana.





हमारे  देश की 85 प्रतिशत जनसंख्या गॉवों में निवास करती है। गॉव में निवास करने वाले जनसँख्या में से ज्यादातर लोग आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं।विभिन्न सरकारें इन कमजोर पिछड़े लोगों के विकास के लिए विभिन्न प्रकार के योजनाओं को लागू करते हैं।


 सरकारें हमेशा लोगों के भलाई के लिए ही कार्य करती है। आवास योजना, शौचालय निर्माण योजना, महात्मा गाँधी रोजगार गारेंटी योजना, आदि आदि।

इन योजनाओं का उद्देश्य सीधे तौर पर आम निर्धन लोगों को रोजगार देना और उनको आर्थिक रूप से मजबूत बनाना होता है।पर शायद आप लोगों को यह जानकर हैरानी होगी कि इन योजनाओं में से ज्यादातर योजनाओं की जानकारी आम लोगों होता ही नही है।

जानकारी नही हो से वे इन योजनों का लाभ भी नही ले पाते हैं और इस प्रकार बहुत सारी योजनाएँ दम तोड़ने लगती है।


छत्तीसगढ़ में भी सरकार के द्वारा लोगों के हित को ध्यान में रखते हुए ,विभिन्न योजनाएँ चलाई जा रही है ।जैसे -सरस्वती सायकल योजना,स्काई योजना,मिनीमाता स्वावलम्बन योजना आदि इन योजनाओं का मुख्य उद्देश्य सीधे तौर पर लोगों को लाभ पहुंचाकर कर उनके जीवन स्तर में सुधार लाना है।


छत्तीसगढ़ सरकार के विभिन्न योजनाओं में से एक महती योजना है जिसका नाम है श्रद्धांजलि योजना।




                   श्रध्दांजलि योजना

छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा ग्रमीण क्षेत्रों में निवास करने वाले गरीब परिवार जो 2011 के जनगणना के अनुसार गरीब परिवार के रूप में जाने जाते हैं ऐसे परिवारों के मुखिया या किसी भी कमाऊ व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर चौबीस घण्टे के अंदर अंतिम संस्कार के लिए श्रद्धांजिल के रूप परिवार को 2000/-(दो हजार रुपये मात्र) वित्तीय सहायता प्रदान करती है।इस योजना को ही श्रद्धांजलि योजना के नाम से जाता है।





श्रद्धांजलि योजना का उद्देश्य


●ग्रामीण क्षेत्र के गरीब परिवार को अंतिम संस्कार के लिए राशि उपलब्ध कराना।


●असहाय गरीब परिवार का मदद करना।


●पंचायत का जवाबदारी तय करना ।


●जन कल्याण ।




श्रद्धांजलि योजना पंचायत एवं ग्रामीण विकास द्वारा संचालित योजना है इस लिए मृतक परिवार को सहायता राशि उपलब्ध कराने का दायित्व ग्रामपंचायत का होता है। सरपंच और सचिव का पूर्ण जवाबदारी होती है कि मृतक परिवार को सहायता राशि चौबीस घण्टे के अंदर उपलब्ध कराए।


सरपंच सचिव जो इस योजना के राशि प्रदान करने के पूर्ण रूप से उत्तरदायी हैं समय पर मृतक परिवार के पास जाकर राशि उपलब्ध करा देना चाहिए ।


इसे भी पढ़ें-मिनीमाता स्वावलम्बन योजना www.hamargaon.com पर।


दोस्तों इस जानकारी को अधिक से अधिक शेयर जरूर करें ,क्योंकि किसी गरीब परिवार को दुखद समय मे अंतिम संस्कार के लिए कुछ आर्थिक मदद मिल सके तो इससे बड़ा पूण्य का काम और क्या हो सकता है।यह जानकारी आप लोगों को कैसा लगा कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर अवगत कराना।आप लोगों के मन में इस योजना के सम्बन्ध में कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपना सवाल लिख सकते हैं।

जय जोहार





2 comments:

  1. क्या ६०वष के बाद नहीं मिलता है श्ररधानजली योजना का लाभ

    ReplyDelete
  2. सरपंच सचिव के ऊपर निर्भर करता है

    ReplyDelete