छत्तीसगढ़ी व्हाट्सअप स्टेटस इमेज chhattisgarhi whatsapp status image - हमर गांव

Latest

Monday, 3 December 2018

छत्तीसगढ़ी व्हाट्सअप स्टेटस इमेज chhattisgarhi whatsapp status image



क्या आप छत्तीसगढ़ी शायरी वाले इमेज को अपने व्हाट्सएप स्टेटस बनाना चाहते हैं,यदि आप का जवाब हां में है, तो अब आपको हतास होने की आवश्यकता नही है,क्योंकि हम छत्तीसगढ़ी शायरी वाला इमेज आप लोगों के लिए उपलब्ध करा रहे हैं।
जिससे आप अपने पसन्द के शायरी वाले इमेज को अपना व्हाट्सएप स्टेटस बना सकते हैं। 



मया बढ़ाए जिये ल सिखाए,
मोर हिरदे के कुरिया म तैं जघा बनाए।
छोड़ गे हस तैं आस बंधा के,
महुँ आवत हौं संग लगाले।।
.........................................................................

तोर लिखे चिट्ठी पतरी ल,
पढ़थौं सांझ सबेरा।
लहुट के आजा मोर परेवना,
कर ले मोर सो बसेरा।।
..........................................................................

आँखी के तोर काजर गोरी,
माथा के तोर बिंदिया ओ।
चन्दा जइसे तोर चेहरा ह,
उड़ालिच मोरो निंदिया ओ।।
...........................................................................

हिरदे के तरिया म उठे हिलोरा,
रही-रही पीड़ा बढ़ावत हे।
चिंवचिंव करत चिरइया के बोली,
तोर बिना जीवरा जलावत हे।।
.....................................................

सिरतो कहत हौं मया हे भारी,
झन मां कखरो सीखौना ल।
बन के चकवा खोजत हौं,
मन के मोर मिलौना ल।।
....................................................................
बन के मीरा तोर मया म,
लाज शरम ल भुलाएवँ।
बना के तोला किशन कन्हइया,
हिरदे म बसाएवँ।।
...............................................................................

नानकन के तैं मया भुलाए,
छोड़ चले मोला पिया के दुवारी।
करे रहे वादा संग जिये के,
अब का होगे संगवारी।।
...........................................................................


छागे बदरा उमड़ घुमड़ के,
बिजली मन ल डरावत हे।
करदे गोरिया मया के बरसा,
तन मन मोर सुखावत हे।।
..................................................................

तैं बड़े घर के बेटी,
मैं गरीब किसान।
जचय नही तोर मोर जोड़ी,
तोर अलगे हे पहिचान।।
...............................................................................


दगा म डारे मया बढ़ाके,
आँखी ले धार बोहावत हे।
तोर बिना मोला कुछु नई भावय,
सोंच म रतिहा पहावत हे।।
.........................................................................



बन के तितली उड़ आतेन्व मैं,
तोर मया म सजना।
लेवय हिलोरा हमर मया ह,
जइसे सागर गहरा।।
................................................................



मन के बात मन म रहीगे,
जब पतली कमर बलखाए न।
मुह ल टोपे तैं चुनरी म,
आँखी ले मया झलकाए न।।
.................................................................






















































डाउनलोड करने का तरीका-यदि आप किसी भी थीम को अपना व्हाट्सएप स्टेटस बनाना चाहते हैं तो आप उस इमेज को थोड़ी देर तक टच करके रखेंगे तो आपके सामने कुछ ऑप्शन दिखाई देगा।उनमें से आपको सेव इमेज को ओके करना है इस प्रकार इमेज आपके मोबाइल गैलरी में सेव हो जाएगा।आप गैलरी से उस इमेज को व्हाट्सएप स्टेटस बना सकते हैं।





दोस्तों यदि आपको लगता है कि आपको किसी भी प्रकार के व्हाट्सएप स्टेटस इमेज की आवश्यकता है, तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखना ।और हाँ इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करना न भूलना।जय जोहार 



2 comments: