बकरी पालन लोन / सब्सिडी /फॉर्म छत्तीसगढ़ bakri palan loan scheme in hindi - हमर गांव

Latest

Tuesday, 2 June 2020

बकरी पालन लोन / सब्सिडी /फॉर्म छत्तीसगढ़ bakri palan loan scheme in hindi




हेलो दोस्तों , जनसंख्या बढ़ने के साथ -साथ बेरोजगारी भी बढ़ता जा रहा है ,ऐसे में बकरी पालन व्यवसाय आय का एक अच्छा स्त्रोत हो सकता है। बकरी पालन से होने वाले फायदे के बारे में आप देखे या सुने जरूर होंगे। छत्तीसगढ़ में बकरी पालन व्यवसाय में बहुत ही बढ़िया स्कोप है। 

bakri palan loan scheme in hindi

आज हम आपको बकरी पालन से जुड़ी पूरी जानकारी देने वाले हैं ,यदि आप बकरी पालन में रूचि रखते हैं या बकरी पालन के लिए शासन से मिलने वाले लोन /सब्सिडी के बारे में जानना चाहते हैं तो आपको इस पोस्ट को शुरू से अंत तक ध्यान से पड़ना होगा। 

दोस्तों यदि आप इस पोस्ट को आधे अधूरे पढ़ेंगे तो आपको बकरी पालन से जुड़ी आधी अधूरी जानकारी ही मिल पायेगी ,जिससे आप इसके फायदे के बारे में नहीं जान पाएंगे ,इस लिए थोड़ा समय निकालकर इससे होने वाले फायदे ,अनुदान ,आवेदन प्रक्रिया आदि को जरूर पढ़ें। हम इस पोस्ट में छत्तीसगढ़ के साथ -साथ अन्य राज्यों के बकरी पालन विभाग का लिंक पोस्ट के निचे उपलब्ध करा रहे हैं,जिससे आप अपने राज्य के बकरी पालन के बारे में जान पाएंगे।  

bakri palan project report-

छत्तीसगढ़ में बकरी पालन के वर्तमान स्थिति की बात करें तो यहाँ आज भी परम्परागत तरिके से बकरी पालन किया जाता है। छत्तीसगढ़ में बकरी पालन का कार्य स्वतंत्र रूप में बहुत कम ही देखे को मिलता है। गाय ,भैंस जैसे दुधारू पशुओं के साथ बकरी पाल लिया जाता है। 



बकरी से दूध ,चमड़ा और मांस मिलती है जो आय का एक अच्छा स्त्रोत है। जनसंख्या में वृद्धि और प्रतिव्यक्ति आय में वृद्धि के कारण बकरी मांस का मांग दिनोंदिन बढ़ती ही जा रही है। हर वर्ष बकरियों के जनसंख्या में वृद्धि के बावजूद बकरी मांस की पूर्ति आवश्यकता अनुसार नहीं हो पा रही है ,जिसके कारण बकरी मांस का मूल्य बढ़ता ही जा रहा है। 

छत्तीसगढ़ में बकरी पालन की अपार संभावनाएं हैं ,बस जरूरत है तो उचित मार्गदर्शन में बकरी पालन करने की। यह वर्ष भर चलने वाला व्यवसाय है तथा परिवार के आय का एक अच्छा स्त्रोत भी। 

👉इस पोस्ट में बकरी पालन से जुड़ी क्या क्या जानकारी जान पाएंगे bakri palan vyavsay-

🔆 बकरी पालन की विशेषताएं -
🔆 बकरी पालन से लाभ -
🔆 छत्तीसगढ़ राज्य बकरी उद्यमिता विकास अनुदान तथा लोन -
🔅 छत्तीसगढ़ शासन के बकरी पालन योजना का लाभ किसे मिलना है (पात्रता )-
🔅 बकरी पालन अनुदान हेतु आवश्यक दस्तावेज -
🔅 बकरी पालन लोन /अनुदान हेतु आवेदन कैसे करें -
🔅 बकरी पालन के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से लोन कैसे लें -

👉बकरी पालन की विशेषताएं -

♢ बकरी पालन शुरुआत का खर्च बहुत कम आता है ,इस लिए आर्थिक रूप से कमजोर तबका भी बकरी पालन कर सकता है। 
♢ बकरी के चारा तथा आवास का प्रबंधन आसानी से किया जा सकता है , क्योंकि यह पेड़ों के पत्ती खाकर भी अपना पेट भर लेती है। 
♢ बकरी बहुजनन क्षमता वाला पशु है ,10-12 माह में प्रजनन व जनन करने लगता है। 

♢ बकरी एक बार में दो या उससे अधिक बच्चे को जन्म देती है। 
♢ बकरी का बिट खाद रूप में काम आता है। 
♢बकरी का दूध बहुत ही पौष्टिक होता है तथा गाय ,भैंस के दूध के अपेक्षा जल्दी पच जाता है। बकरी का दूध जीवाणु नाशक तथा फफूंद नाशक होता है। 
♢ बकरी का मांस बहुत महंगा होता है। 
♢ बकरी चलता फिरता बैंक की तरह होता है ,जिसे बेचकर छोटा मोटा सामान तुरंत लिया जा सकता है। 
♢ बकरी पालन से आय बहुत जल्दी बढ़ता है। 

👉बकरी पालन से लाभ goat farming profit in hindi-

♣ बकरी पालन आय का अच्छा साधन है  तथा यह वर्ष भर चलता है। 
♣ बकरी पालन से कम लागत में आय शीघ्र दो गुना।  
♣ बकरी के बिट से खाद बनाकर बेचा या खेतों में डाला जा सकता है। 
♣ बकरी अन्य जानवरों के अपेक्षा जल्दी और ज्यादा बच्चे को जन्म देती है। 
♣ बकरी पालन से दूध ,चमड़ी ,मांस मिलता है जोकि महंगे दामों में बिकता है। 
♣ बकरी का दूध विटामिन ए का मुख्य स्रोत है। 

👉छत्तीसगढ़ राज्य बकरी उद्यमिता विकास अनुदान तथा लोन How can I get a loan for goat farming?



 घटक का नाम  कुल वित्तीय लागत (रु.लाख में) सहायता का प्रकार (पूंजी अनुदान )सामान्य श्रेणी  हितग्राही के हेतु  सहायता का प्रकार (पूंजी अनुदान )अजा /अजजा श्रेणी हितग्राही हेतु 
 बकरी इकाई (30 बकरियाँ एवं 2 उन्नत नस्ल के बकरे प्रति इकाई )  राशि रूपये 1.00 लाख   कुल वित्तीय लागत का 25 % अधिकतम रूपये 0.25 लाख  (30 बकरियाँ एवं 2 उन्नत नस्ल के बकरे प्रति इकाई )  कुल वित्तीय लागत का 33 % अधिकतम रूपये 0.333 लाख (30 बकरियाँ एवं 2 उन्नत नस्ल के बकरे प्रति इकाई ) 

यदि आप सामान्य श्रेणी के हितग्राही हैं तो आपको 1.00 लाख रूपये में 25 हजार अधिकतम अनुदान (सब्सिडी ) मिलेगा और यदि आप अनुसूचितजाति /जनजाति के हितग्राही हैं तो आपको 1.00 लाख में अधिकतम 33 हजार अनुदान मिलेगा। 

👉छत्तीसगढ़ शासन के बकरी पालन योजना का लाभ किसे मिलना है (पात्रता ) bakri palan loan --

♦ संयुक्त परिवार में किसी एक को ही इस योजना का लाभ मिलेगा। 
♦ हितग्राही को कम से कम 5 वर्ष के छत्तीसगढ़ का निवासी होना चाहिए। 
♦ किसी भी जाति वर्ग के व्यक्ति इसके लिए आवेदन कर सकता हैं। 
♦ हितग्राही को अनुदान मिलने पर कम से कम तीन वर्ष तक बकरी पालन करना होगा। 
♦ इस योजना का लाभ मिलने के 5 वर्ष बाद ही दुबारा इसका लाभ लिया जा सकता हैं। 
♦ लोन तथा अनुदान विभाग के द्वारा निर्धारित राष्ट्रीकृत /सहकारी /ग्रामीण बैंक से दिया जा सकता है। 
♦ छूट में मिलने वाली राशि को छोड़कर शेष राशि ऋण के रूप में जमा करना होगा। 

👉बकरी पालन अनुदान हेतु आवश्यक दस्तावेज documents required for goat farming loan-


♠ छत्तीसगढ़ का निवास प्रमाण पत्र। 
♠ जाति प्रमाण पत्र (अनुसूचितजाति /जनजाति के हितग्राही हेतु )
♠ बकरी पालन कम से कम तीन वर्ष संचालित करने अनुबंध पत्र 
♠ बैंक से अनुबंध ,सत्यापन प्रमाण पत्र। 
♠ बकरी पालन स्थापना संबंधी प्रमाण पत्र। 
♠ पासपोर्ट साइज दो फोटो। 
♠ आवेदन निर्धारित प्रारूप में। 
♠ बैंक पासबुक की छायाप्रति। 
♠ पहचान तथा पते का प्रमाण पत्र -आधारकार्ड /वोटरआईडी आदि 

👉बकरी पालन लोन /अनुदान हेतु आवेदन कैसे करें How much subsidy do you get for goat farming?-

आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदक को अपने विकास खंड के नजदीकी पशु चिकित्सा संस्था (पशु औषधालय ,कृत्रिम गर्भाधान उपकेंद्र ,पशु चिकित्सालय ,मुख्य ग्राम इकाई ,कृत्रिम गर्भाधान केंद्र ) में आवेदन करना होगा। आपके द्वारा सुझाये गए राष्ट्रीकृत /सहकारी /ग्रामीण बैंक को विभाग द्वारा आवेदन ऋण हेतु भेजा जायेगा। 

इस प्रकार बैंक से लोन स्वीकृत हो जायेगा और आप स्वयं बकरी व बकरा खरीद पाएंगे। अनुदान से मिलने वाले छूट के अलावा शेष राशि को ऋण के रूप में बैंक को चुकाना होगा। 

👉बकरी पालन के लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से लोन कैसे लें -

यदि आप विभागीय लोन के अलावा अन्य तरिके से लोन लेना चाहते हैं तो बिना गारंटी के प्रधानमंत्री मुद्रा लोन से लाभ ले सकते हैं और बकरी पालन कर सकते हैं। इस योजना में भी अनुदान प्राप्त होता है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना की पूरी जानकारी हमने हमारे पीछे पोस्ट में आप लोगों से साझा किये हैं ,जिसका लिंक निचे दिया जा रहा है। आप वहां से पूरी जानकारी प्राप्त कर ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। 








संबंधित अन्य लिंक -


छत्तीसगढ़ शासन के बकरी पालन अनुदान (सब्सिडी )/लोन की जानकारी हमने आप लोगों से साझा किये हैं ,यह जानकारी आपको कैसा लगा  या बकरी पालन से जुडी और कोई जानकारी चाहते हैं तो कमेंट के माध्यम से अपना विचार हमें भेज सकते हैं। इस जानकारी को सभी बेरोजगार युवा साथियों को शेयर जरूर करें। धन्यवाद   

No comments:

Post a comment