प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि : अपात्र किसानों से होगी वसूली

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है ,जिसके मुताबिक गलत तरीके से किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहे किसानों से वसूली की जाएगी । इस सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार अब तक 9219 किसानों को वसूली हेतु नोटिस भेजा जा चूका है |


हालाँकि छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत लाभ ले रहे किसानों के जाँच की अभी तक कोई खबर नही है ,परन्तु ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है ,इतनी बड़ी मात्रा अपात्र किसान मिलने से छत्तीसगढ़ में भी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों  की जाँच की जा सकती है |

इस सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार अब तक जो अपात्र किसान पाए गये हैं ,उसमें मृतक किसान ,पेंशनधारक ,गलत खाते में पैसा हस्तांतरण ,अगल आधार तथा एक समान नाम वाले अपात्र किसान शामिल है | जिनसे वसूली की कार्यवाही की जा रही है |

तीन किस्तों में प्रदान की जाती है 6000 रूपये -

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना भारत सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है ,इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा किसानों को आर्थिक सहयोग दी जाती है | यदि इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली लाभ की बात करें तो सरकार द्वारा प्रत्येक 4 महीने में 2000 -2000 रूपये सीधे हितग्राहियों के खाते में ट्रांसफर किया जाता है ,इस प्रकार साल में कुल 6000 रूपये प्रदान की जाती है |

छत्तीसगढ़ में 24 लाख से अधिक लाभार्थी -

यदि छत्तीसगढ़ में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पंजीकृत किसानों की संख्या की बात करें तो 24-30 लाख के बीच है | छत्तीसगढ़ अभी तक लाभार्थियों की जाँच नही हुई है ,परन्तु उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा जाँच कराने पर एक ही जिले में 9 हजार से अधिक अपात्र किसान मिले हैं , जिसके आधार अंदाजा लगाया जा सकता है कि यही स्थिति छत्तीसगढ़ सहित अन्यों राज्यों में भी होगी |

अब तक नौवीं क़िस्त हो चुकी है जारी -

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत अब नौ क़िस्त जारी किया जा चूका है ,जोकि डायरेक्ट बेनीफिसरी ट्रांसफर के माध्यम से सीधे किसानों के खाते में जमा होता है | 9 अगस्त 2021 को ही प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का नौवीं क़िस्त जारी किया गया है |

मैनपुरी जिले में 9 हजार से अधिक अपात्र किसान -

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहे किसानों की बात करें तो उत्तर प्रदेश के मैनपुरी जिले में ही एकेले 9 हजार से अधिक अपात्र किसान पाए गये हैं ,जिसकी सूची कृषि विभाग को भेज दी गई | कृषि विभाग द्वारा पात्रता का पड़ताल किया जयेगा ,उसके बाद वसूली की कार्यवाही की जाएगी |


नगद राशि जमा करने का निर्देश -

जिन 9219 अपात्र किसान पाए गये हैं उन्हें नोटिस जारी कर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की राशि वसूली की जाएगी ,यह राशि किसान को नगद में वापिस करना होगा | इस खबर से गलत तरीके से किसान सम्मान निधि योजना का लाभ ले रहे किसानों में खलबली मच गई है |

Post a Comment

0 Comments