how to add / mapping / seach vendors in PFMS

PFMS login,how to add vendor in pfms,how to add bank account in pfms,pfms account, how to search vendor in pfms, vendor mapping in pfms,how to delete vendor in pfms,

हेलो फ्रेंड्स, एक बार फिर से आपका अपना जाना पहचाना वेबसाइट hamargaon.com पर स्वागत है आज हम आपसे pfms लॉगइन के साथ-साथ vendors ऐड/सर्च करने से जुड़ी जानकारी साझा करने जा रहे हैं। जैसाकि आपको विदित है स्कूलों को जो विभिन्न प्रकार का अनुदान राज्य कार्यालय द्वारा जारी किया जाता है ,उसका व्यय अब pfms पोर्टल के माध्यम से ही किया जाना है।

राज्य कार्यालय द्वारा सभी स्कूलों में जीरो बैलेंस खाता खुलवाया गया है , जिसको pfms सिस्टम से जोड़ा गया है , शिक्षा सत्र 2021-22 से स्कूलों में राज्य कार्यालय से जो भी अनुदान प्राप्त होगा/हुआ है , उसका व्यय पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम से ही किया जाना है।

pfms क्या है-

pfms का फुल फॉर्म होता है public financial management system . हिंदी में इसका अर्थ होता है सार्वजनिक वित्तीय प्रबंधन प्रणाली। pfms एक वेब आधारित ऑनलाइन सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन है जिसे भारत सरकार और वित्त मंत्रालय द्वारा विकसित और क्रियान्वित किया गया है, इसके मदद से भारत सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत दिए जाने वाली राशि का लेखा-जोखा रखा जाता है ।

आईडी और पासवर्ड-

pfms पोर्टल पर स्कूल लॉगिन हेतु जिला या विकासखंड स्तर से स्कूलों को आईडी और पासवर्ड प्राप्त हुआ होगा। हो सकता है कुछ जिलों में एडमिन का आईडी प्राप्त हुआ हो ,आपको एडमिन आईडी की मदद से maker और checker का आईडी क्रिएट करना है। परंतु कुछ जिले ऐसे हैं जहां जिला या विकासखंड स्तर से maker और approver दोनों का आईडी प्राप्त हुआ है, वहां अलग से आईडी और पासवर्ड क्रिएट करने की आवश्यकता नहीं है । यदि आप वेंडर ऐड /सर्च करना चाहते हैं तो आपको maker (कोषाध्यक्ष ) के आईडी से ही लॉगिन होना है। यदि आप approver(सचिव ) के आईडी से लॉग इन होते हैं तो vendors ऐड करने का ऑप्शन दिखाई नही देगा |

Vender add कैसे करें-

स्टेप 1- सबसे पहले आपको अपने मोबाइल या लैपटॉप के ब्राउज़र को open करना है तथा उसके सर्च बार में pfms या pfms login टाइप कर सर्च करना है , सर्च करते ही पब्लिक फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम का ऑफिशियल वेबसाइट स्क्रीन पर प्रदर्शित होने लगेगा आपको उस पर क्लिक करना है। नीचे pfms का लिंक उपलब्ध कराया जा रहा है, पूरी प्रक्रिया को समझने के बाद आप उक्त लिंग के माध्यम से पब्लिक फाइनेंशियल मैनेजमेंट सिस्टम के वेबसाइट पर डायरेक्ट हो सकते हैं।

स्टेप 2- अब पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम के वेबसाइट का home पेज प्रदर्शित होने लगेगा । होम पेज पर दायीं ओर login का इंटरफेस दिखाई देगा, आपको उस पर क्लिक करना है, क्लिक करते ही लॉगिन हेतु आईडी और पासवर्ड दर्ज करने का इंटरफेस प्रदर्शित होने लगेगा। आपको अपने शाला के maker (कोषाध्यक्ष) का आईडी और पासवर्ड दर्ज कर login पर क्लिक करना है।

ध्यान रखने योग्य बातें -

यदि आप जिस vendors को अपने लॉग इन में न्यू वेंडर के रूप में जोड़ना चाहते हैं और आपसे पहले कोई और उसे vendors के रूप में जोड़ चूका है तो उसे न्यू वेंडर के रूप में नहीं जोड़ सकते | ऐसे वेंडर को आपको अपने लॉग इन पर सर्च करके ऐड करना है |

किसी और के द्वारा जोड़े गए वेंडर को अपने लॉगिन पर कैसे ऐड करें-

स्टेप 1- इस तरह आप pfms पोर्टल पर लॉगिन हो जाएंगे अब पुनः एक न्यू पेज ओपन हो जाएगा, इस पेज में आपको दायीं ओर दिए गए इंटरफेस में से master पर क्लिक करना है । master पर क्लिक करते ही चार तरह का इंटरफेस प्रदर्शित होगा bulk customization, beneficiary management ,vendors,locations में से vendors पर क्लिक करना है। vendors पर क्लिक करते ही इसके अंतर्गत पुनः पांच तरह का ऑप्शन दिखाई देगा - manage ,add new, account revalidation,upload vendors data,bulk mapping of vendorsआपको  manage पर क्लिक करना है।

स्टेप 2- manage पर क्लिक करते ही पुनः एक न्यू इंटरफेस ओपन हो जाएगा, इस पेज में आपको जिसे आप वेंडर के रूप में जोड़ना चाहते हैं , क्या किसी और ने उसे पहले से vendor के रूप में जोड़ चुका है यह जानने के लिए तो search criteria में vendors not mapped with me को चयन करना है , इसके बाद नीचे संबंधित बेनिफिसरी या वेंडर के नाम या फिर उसका अकाउंट नंबर दर्ज कर search के इंटरफ़ेस पर क्लिक करना है। ऐसा इसलिए क्योंकि यदि आप किसी वेंडर को अपने बेनेफिशरी के रूप में जोड़ना चाहते हैं और यदि उसे आप से पहले किसी ने वेंडर के रूप में जोड़ चुका है ,तो आप उसे न्यू वेंडर्स के रूप के नही जोड़ पाएँगे।

स्टेप 3- अब संबंधित नाम से जितने भी वेंडर्स जोड़े गए हैं उनकी पूरी सूची प्रदर्शित होने लगेगी , आप ध्यान से सम्बंधित वेंडर नाम और अकाउंट नंबर जिसे आप वेंडर के रूप में जोड़ना चाहते हैं को मिलान कर लेंगे, यदि आप जिसे वेंडर के रूप में जोड़ना चाहते हैं वह पहले से ऐड है तो आपको संबंधित वेंडर के डिटेल के सामने दिए गए बॉक्स पर चेक मार्क करना है और नीचे दिए गए map vendors पर क्लिक करना है इस तरह आपके द्वारा मैप किए गए वेंडर आपके लॉगिन पर वेंडर के रूप में सेव हो जाएगा।

स्टेप 4 - आपने जो वेंडर अपने लॉग इन पर सेव किये हैं ,क्या वह आपके लॉग इन पर ऐड हुआ या नहीं जानने के लिए  search criteria में vendors mapped but registered by others को चयन करना है , इसके बाद नीचे संबंधित बेनिफिसरी या वेंडर के नाम या फिर उसका अकाउंट नंबर दर्ज कर search के इंटरफ़ेस पर क्लिक करना है। यदि वह वेंडर आपके लॉग इन पर ऐड हो गया है तो उसकी सूची प्रदर्शित होने लगेगा | यदि आप unmapped करना चाहते हैं तो unmapped पर क्लिक करते ही सूची से हट जाएगा |

स्वयं new vendor कैसे जोड़ें -

स्टेप 1- यदि आप जिस किसी को vendors के रूप में सर्च या करते है , उसे आपसे पहले किसी ने vendors के रूप में नहीं जोड़ा है ,तब उसके लिए होम पेज में आपको बायीं ओर दिए गए इंटरफेस में से master पर क्लिक करना है । master पर क्लिक करते ही चार तरह का इंटरफेस प्रदर्शित होगा bulk customization, beneficiary management ,vendors,locations में से vendors पर क्लिक करना है। vendors पर क्लिक करते ही  इसके अंतर्गत पांच तरह का ऑप्शन दिखाई देगा , manage ,add new, account revalidation,upload vendors data, bulk mapping of vendors आपको add new  पर क्लिक करना है।

स्टेप 2-अब vendors add करने का पेज ओपन हो जाएगा , सबसे पहले आपको type का चयन करना , ऐसे व्यक्ति जिसे आप रेंडर के रूप में ऐड करना चाहते हैं , जिनका फर्म नहीं है तो आपको ऐसे वेंडर्स के लिए personal का चयन करना है। परंतु ऐसे वेंडर या दुकान जिसका फर्म है अर्थात उसका अकाउंट नंबर व्यक्तिगत ना होकर फर्म के नाम से है तो उसके लिए commercial का चयन करना है , इसके पश्चात नाम, पिता का नाम ,डेट ऑफ बर्थ, आधार नंबर, gst नम्बर, संबंधित फर्म का एड्रेस, पिन कोड नंबर सहित दर्ज करना है। 

(यदि आप commercial का चयन करते हैं तभी gst नम्बर दर्ज करना अनिवार्य है , इसके अतिरिक्त कुछ जानकारी ऐसे हैं जो वैकल्पिक है ,आप चाहें तो उसे छोड़ भी सकते हैं | कौन कौन से जानकारी को भरना जरुरी है ,जानने के लिए कोई भी जानकारी दर्ज किये बिना ही save पर क्लिक करें जिससे कि जो जानकारी दर्ज करना जरुरी है ,उसमे mandatory लिखा जायेगा )

ऊपर भाग में दिए गए सभी जानकारी को फिल करने के बाद आपको बैंक संबंधी डिटेल भरना है तो इसके लिए bank name में संबंधित बैंक के तीन चार लेटर (जैसे -sbi) को टाइप कर सर्च करना है इसके पश्चात बैंकों की सूची प्रदर्शित होने लगेगी आपको उनमें से संबंधित बैंक का चयन कर लेना।

इसके पश्चात account number दर्ज करना है, तथा add bank detail पर क्लिक करना है, इस प्रकार संबंधित बैंक अकाउंट का डिटेल प्रदर्शित होने लगेगा । अंत मे आपको save पर क्लिक कर देना।

स्टेप 3- इसके बाद न्यू पेज ओपन जाएगा इसमें आपने जिसे vendor के रूप में ऐड किया है उसका पूरा डिटेल प्रदर्शित लगेगा , उसके ठीक नीचे लिखा रहेगा do you till want to create new vendor  आपको yes पर क्लिक करना है , इस तरह new vendor आपके लॉगिन पर सेव हो जाएगा।

👉वेंडर ऐड करने के लिए pfms लिंक click here 

किसी अन्य के द्वारा ऐड किये गये वेंडर को अपने लॉग इन पर ऐड किये गये  तथा आपके द्वारा जो न्यू वेंडर जोड़ा गया है ,उसे भुगतान कैसे करना है ,इसकी जानकारी हम शीघ्र ही आपसे साझा करेंगे ,तब तक आप इस आर्टिकल ले मदद से वेंडर ऐड कर रख सकते हैं |

Post a Comment

0 Comments