cg krishi yantra subsidy yojana 2022 छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र सब्सिडी योजना 2022

कृषि यंत्र सब्सिडी chhattisgarh 2022,कृषि विभाग ट्रैक्टर सब्सिडी,c.g. agri portal,cg govt agriculture subsidy in,छत्तीसगढ़ में किसानों के लिए योजनाएं,कृषि यंत्रों पर अनुदान (सब्सिडी) स्वीकृति हेतु आवेदन पत्र),कृषि उपकरण पर सब्सिडी कैसे प्राप्त करें?,सिंचाई पाइपलाइन पर अनुदान (सब्सिडी के लिए आवेदन पत्र pdf),कृषि यंत्रों पर अनुदान (सब्सिडी) स्वीकृति हेतु आवेदन पत्र),रोटावेटर पर सब्सिडी है क्या?,कृषि यंत्र सब्सिडी योजना क्या है?

किसान भाइयों नमस्कार, छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कृषि यंत्रों में दी जाने वाली सब्सिडी से जुड़ी जानकारी के साथ एक बार पुनः आपका हमारे वेबसाइट पर स्वागत है। आज हम जानेंगे कि छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कृषि यंत्र योजना के अंतर्गत किन-किन कृषि यंत्रों के लिए सब्सिडी दी जाती है और कितनी सब्सिडी दी जाती है। आवेदन कहां करना होता है आवेदन फॉर्मेट कहां से प्राप्त होगा आदि की पूरी जानकारी आपसे साझा करेंगे तो पूरी जानकारी को ध्यान से जरूर पढ़ें।

छत्तीसगढ़ भी उन राज्यों की सूची में शामिल है जहां कृषकों को कृषि यंत्र खरीदने पर सब्सिडी प्रदान की जाती है। छत्तीसगढ़ शासन द्वारा लघु और सीमांत किसानों को कृषि उपकरणों पर 40% से 70% तक सब्सिडी प्रदान की जाती है, ताकि हर किसान कृषि से जुड़े कार्यों को सरलतम तरीके से कर सके और उन्हें परेशानियों का सामना करना ना पड़े।

इसे भी पढ़ें - छत्तीसगढ़ धान खरीदी टोकन ऑनलाइन कैसे प्राप्त करें 

cg krishi yantra subsidy yojana छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र सब्सिडी योजना-

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा लघु एवं सीमांत किसानों  की कृषि आय में वृद्धि तथा  कृषकों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र सब्सिडी योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के अंतर्गत सरकार लाभार्थी को सरकार द्वारा निर्धारित कृषि यंत्रों पर 40 से 70% तक सब्सिडी प्रदान करती है।

कृषि यंत्र पर सब्सिडी के फायदे-

♦छत्तीसगढ़ के सब्जी लघु और सीमांत किसानों को खेती के संसाधन उपलब्ध कराने के लिए कृषि यंत्र सब्सिडी योजना की शुरुआत की गई है।

♦छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा किसानों को कृषि उपकरण की खरीदी पर अलग-अलग कृषि उपकरण पर 40% से 70% तक सब्सिडी दी जाती है।

♦ऐसे किसान जो कृषि यंत्र खरीदने में सक्षम नहीं है उन्हें कृषि यंत्र पर सब्सिडी  दिए जाने पर वे इस योजना का लाभ  लेकर कृषि यंत्र खरीद सकते हैं।

♦इस योजना के तहत किसानों को कृषि यंत्र पर दी जाने वाली सब्सिडी की राशि सीधे उनके बैंक खाते में आवेदन करने के बाद दिया जाता है।

♦कृषि यंत्र पर सब्सिडी दिए जाने से कृषक कृषि कार्यों को सरलतम तरीके से कर सकते हैं।

♦इस योजना से राज्य के किसानों की आय में वृद्धि होगी और किसान आत्मनिर्भर बनेगा।

इसे भी पढ़ें -किसान पंजीयन लिस्ट 2022-23

cg krishi yantra subsidy yojana eligibility छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र योजना के लिए पात्रता-

♦जो किसान छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र सब्सिडी योजना का लाभ लेना चाहते हैं,उसे छत्तीसगढ़ का स्थाई निवासी होना जरूरी है।

♦छत्तीसगढ़ कृषि सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए किसान की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होना आवश्यक है।

♦कृषि यंत्र पर सब्सिडी की राशि किसान के बैंक खाते में भेजा जाता है इसलिए किसान का बैंक खाता होना आवश्यक है साथ ही बैंक खाता आधार से लिंक होना जरूरी है।

♦इस योजना के तहत  कृषक के पास कृषि यंत्र की खरीद का पक्का बिल होना जरूरी है।

♦छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र सब्सिडी योजना के अंतर्गत एक परिवार से एक किसान इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

♦कृषि यंत्र पर सब्सिडी किसान को सरकार द्वारा किए गए यंत्र पर ही प्रदान की जाती है।

♦इस योजना के अंतर्गत अनुदान लेने के लिए आवेदक किसान के पास कृषि भूमि होना आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें -किसान कोड कैसे प्राप्त करें 

छत्तीसगढ़ कृषि यंत्र सब्सिडी योजना हेतु आवश्यक दस्तावेज-

♦पूर्ण रूप से भरा हुआ आवेदन फार्म

♦मूल निवास प्रमाण पत्र

♦बैंक पासबुक की कॉपी

♦आय प्रमाण पत्र

♦उम्र संबंधी प्रमाण पत्र

♦आधार कार्ड की कॉपी

♦कृषि भूमि से संबंधित कागजात

♦पासपोर्ट साइज फोटो

दस्तावेजों से जुड़े अधिक जानकारी के लिए जिला कृषि विभाग के कार्यालय या अपने कृषि विकास अधिकारी से संपर्क करें।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कृषि सब्सिडी योजना में जोड़े गए कृषि यंत्रों की सूची-

पावर टिलर,हस्त चलित यंत्र, बैल चलित यंत्र, विशेषकृत पावर ड्रिवन इक्विपमेंट, पावर थ्रेसर,  बैल चलित टूल कैरियर, शक्ति चलित स्प्रेयर,हस्त चलित स्प्रेयर, ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर, एरोपब्लास्ट स्प्रेयर, स्वचालित रीपर, पैड़ी ट्रांसप्लांटर, अन्य self-propelled मशीनें, पोटैटो प्लांटर,पोटैटो डीगर,ग्राउंडनट डीगर,  स्ट्रिप टिल ड्रिल, ट्रैक्टर चलित रीपर,क्लीनर कम ग्रेडर,ड्रायर, मिनी राइस मिल, आयल मिल, कल्टीवेटर, रोटावेटर,स्ट्रा रीपर, क्राफ्ट रीपर,बाइंडर, हैप्पी सीडर, केज व्हील, वेजिटेबल ट्रांसप्लांटर, शुगर केन कटर प्लांटर आदि।

👉छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कृषि सब्सिडी योजना में जोड़े गए कृषि यंत्रों की सूची डाउनलोड करें 

किस कृषि यंत्र पर कितना सब्सिडी मिलेगा गणना कैसे निकाले-

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा कृषि यंत्र सब्सिडी योजना के अंतर्गत  किसी भी कृषि यंत्र पर सब्सिडी की गणना करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

स्टेप 1- सबसे पहले आपको कृषि विभाग के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा इसके लिए आपको अपने मोबाइल  ब्राउज़र को ओपन करना है और उसमें टाइप कर सर्च करना है agriportal.cg.nic.in

इस तरह छत्तीसगढ़ कृषि विभाग का ऑफिशियल वेबसाइट स्क्रीन पर प्रदर्शित होने लगेगा आपको उस पर क्लिक करना है।

स्टेप 2- अब छत्तीसगढ़ कृषि विभाग के वेबसाइट का होम पेज ओपन हो जाएगा इस पेज में आपको दाई ओर दिए गए सॉफ्टवेयर्स  के इंटरफ़ेस पर क्लिक करना है।

स्टेप 3- अब पुनः एक न्यू पेज ओपन हो जाएगा,  agri MIS system, agri subsidy, AGRI BUDGET, agri licensing, नरवा गरुवा घुरूवा  अउ बाड़ी, AGRIKOSH, GEO TAGGING का ऑप्शन लोगो सहित दिखाई देगा, आपको agri subsidy लिखे लोगो पर क्लिक करना है।

स्टेप 4- अब छत्तीसगढ़ शासन कृषि विभाग अनुदान ऑनलाइन का पेज ओपन हो जाएगा इस पेज में आपको स्क्रीनशॉट द्वारा दिखाए गए  अनुसार अनुदान गणक पर क्लिक करना है।

स्टेप 5- अब जो पेज ओपन होगा उसमें आपको अपने जिला,विकासखंड,पंचायत,ग्राम,जाति,लिंग,योजना- (कृषि यंत्र सब्सिडी योजना),प्रयोजन- (जिस यंत्र पर सब्सिडी चाहते हैं उसका चयन करना है।),कुल रकबा,चयनित रकबा ,बिल की राशि | अंत में पात्र अनुदान की गणना करें पर क्लिक करना है इस तरह आप को किस यंत्र पर कितना सब्सिडी मिलेगा पूरी गणना प्रदर्शित हो जाएगी।

👉अधिक जानकारी के लिए कृषि विभाग के वेबसाइट का विजिट करें click here

कृषि यंत्र सब्सिडी हेतु आवेदन फार्म और आवेदन प्रक्रिया-

यदि आपको कृषि यंत्र पर सब्सिडी लेना चाहते हैं, तो आपको अपने नजदीकी जिला कृषि विभाग के कार्यालय से आवेदन फार्म प्राप्त करना होगा क्योंकि शासन द्वारा ऑनलाइन आवेदन की सुविधा नहीं दी गई है। आवेदन फार्म प्राप्त करने के बाद आपको सभी जानकारी को ध्यान से भरना है और उसके पश्चात अन्य दस्तावेज जो ऊपर बताया गया है उसके साथ आपको अपने कृषि विकास अधिकारी के पास जमा करना होगा।

Post a Comment

0 Comments