पलायन की सूचना : सुरक्षा के हिसाब से पलायन की सूचना शासन को कैसे दें- छत्तीसगढ़ | shramev jayate app download

हेलो फ्रेंड्स,  आज हम जो जानकारी आपसे साझा करने जा रहे हैं,वह छत्तीसगढ़ के उन सभी लोगों के लिए बहुत ही ज्यादा उपयोगी है, जो कमाने खाने के मकसद से दूसरे राज्यों में पलायन कर जाते हैं। यदि आप भी काम की तलाश में छत्तीसगढ़ से बाहर अन्य राज्य में  जाते हैं, तो इस जानकारी को आप को ध्यान से जरूर पढ़ना चाहिए।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा लोगों के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है। इन योजनाओं के मदद से लोगों को पूरे साल भर काम उपलब्ध कराया जाता है, इसके बाद भी प्रतिवर्ष हजारों लोग छत्तीसगढ़ से बाहर अन्य राज्यों में काम की तलाश में जाते हैं। शासन द्वारा पलायन को रोकने के लिए कई उपाय किए जा रहे हैं परंतु पलायन को अभी तक रोका नहीं जा सका है।

पलायन से अन्य राज्यों में अच्छा संदेश तो नहीं जाता, साथ ही यदि अन्य राज्यों में पलायन करने वाले  श्रमिकों के साथ बंधक /आपात जैसी स्थिति निर्मित हो जाती है,उस स्थिति में शासन के पास उनका कोई रिकॉर्ड नहीं होने से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

इसे भी पढ़ें -छत्तीसगढ़ न्यूनतम मजदूरी दर 

पलायन कर्ता श्रमिकों की सूचना -

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा भवन एवं अन्य संनिर्माण, असंगठित कर्मकार श्रमिकों  के लिए पलायन की सूचना देने हेतु एक ऐप तैयार किया गया है, जिसमें पलायन करने वाले मजदूर अपनी पलायन पूरी जानकारी शासन से साझा कर सकते हैं। जिससे कि किसी भी प्रकार की अनहोनी होने पर शासन द्वारा शीघ्र ही एक्शन लिया जाता है।

श्रमिकों को पलायन की सूचना क्यों देना चाहिए-

पलायन करने वाले श्रमिकों को शासन को पलायन की सूचना अनिवार्य रूप से देना चाहिए, क्योंकि इससे बंधक या आपातकाल की स्थिति निर्मित होने पर शासन के पास सूचना होने पर संबंधित मजदूर को वापस लाने शीघ्र ही प्रक्रिया शुरू कर दी जाती है। यदि शासन के पास पलायन की सूचना नहीं है उस स्थिति में समय रहते संबंधित श्रमिक तक पहुंचने और उसे वापस लाने में देरी हो सकती है।

इसे भी पढ़ें - राजीव गाँधी भूमिहीन योजना का राशि जमा हुआ या नहीं ऐसे चेक करें 

shramev jayate ( स्वमेव जयते ) एंड्राइड एप्प-

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा पलायन करने वाले श्रमिकों के लिए एक ऐप लॉन्च किया गया है यह एक android app है, जो मोबाइल से ऑपरेट होता है। इस ऐप का नाम है shramev jayate. इसके मदद से कोई भी श्रमिक अपने पलायन की सूचना शासन को दे सकते हैं इससे पलायन करने वाले श्रमिकों को कई तरह से लाभ हो सकता है।

shramev jayate app में पलायन की जानकारी देने के फायदे -

♦ पलायन की जानकारी देने से पलायन किए गए स्थान में बंधक की स्थिति निर्मित होने पर शासन द्वारा शीघ्र ही एक्शन लिया जा सकता है।

♦ पलायन की जानकारी देने से शासन के पास रिकॉर्ड रहता है कि कितने श्रमिक अन्य राज्यों में पलायन किए हैं और वह कौन-कौन से स्थान पर हैं।

♦ पलायन किए गए स्थान में आपातकाल की स्थिति निर्मित होने पर शासन द्वारा संबंधित मजदूर को वापस लाने के लिए शीघ्र ही एक्शन लिया जाता है।

इसे भी पढ़ें - राजीव गाँधी भूमिहीन न्याय योजना के लिए पात्रता ,आवेदन ,राशि की पूरी जानकारी 

श्रमेव जयते ऐप में पंजीयन तथा पलायन की जानकारी कैसे दर्ज करें -

स्टेप 1- प्लेन की सूचना देने के लिए सबसे पहले आपको अपने मोबाइल के play store  में जाना है और उसके सर्च बार में टाइप करना है shramev jayate  फिर सर्च कर देना है।

सर्च करते ही संबंधित एप्स सर्च सूची में प्रदर्शित होने लगेगा , आपको उस पर क्लिक करना है और उसे इंस्टॉल कर लेना है। app की जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए स्क्रीनशॉट का मदद ले सकते हैं।

स्टेप 2- स्टार हो जाने के बाद आप श्रमेव जयते ऐप को ओपन करना है ओपन करने पर आपसे कुछ  परमिशन मंगा जाएगा, जिसे आपको allow  कर देना है। यदि आप denyकरते हैं तो ऐप ओपन नहीं होगा, इसलिए आपको allow  पर क्लिक करना है।

स्टेप 3- allow करने पर एप का डैशबोर्ड स्क्रीन पर ओपन हो जाएगा यहां पर आपको नौ प्रकार का इंटरफेस लोगो सहित दिखाई देगा।

♦ पलायन सूचना

♦भवन एवं अन्य संनिर्माण

♦ असंगठित कर्मकार श्रमिक

♦ competency report

♦ श्रमिक पंजीकरण /सर्वेक्षण

♦ पंजीयन की स्थिति

♦ labour card verifier

♦ दुर्घटना सूचना 

♦ शिकायत निवारण

यहाँ से आप श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं ,पंजीयन की स्थिति चेक कर सकते हैं ,दुर्घटना की सूचना शासन को दे सकते हैं | उक्त विकल्पों में से आपको पलायन सूचना वाले इंटरफ़ेस पर क्लिक करना है।


स्टेप 4- इस तरह लायन की सूचना हेतु लॉगिन का इंटरफ़ेस दिखाई देगा चूँकि आप पहली बार लॉगिन कर रहे हैं, इसलिए आपको सबसे पहले अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा। रजिस्ट्रेशन करने के लिए लॉगिन के नीचे दिए गए इंटरफेस रजिस्ट्रेशन के लिए यहां क्लिक करें पर क्लिक करना है।
 
रजिस्ट्रेशन के लिए आपका नाम ,उम्र ,लिंग ,मोबाइल नम्बर दर्ज करना है ,उसके बाद पासवर्ड क्रिएट करना है ,फिर कन्फर्म पासवर्ड पर उसी पासवर्ड को दर्ज कर submit कर देना है | इस तरह आप पलायन की सूचना देने हेतु रजिस्टर हो जायेंगे |

स्टेप 5- अब पुनः लॉगिन का ओपन हो जाएगा, इसमें यूजर आईडी और बनाए गए पासवर्ड को फिल करना है। इसके बाद लॉगिन करें के इंटरफ़ेस पर क्लिक कर देना है। इस तरह आप एप्प में लॉगिन हो जाएंगे उसके बाद जो पेज ओपन होगा उसमें आपको अपना पूरा डिटेल फील करना है।


पलायन पंजी (प्रस्थान करने वाले ) के सामने बने तीर के निशान पर क्लिक करना है ,इसके बाद  नाम, पिता का नाम, जन्मतिथि , लिंग,जाति, वैवाहिक स्थिति ,आधार नम्बर , मोबाइल नंबर ,राशन कार्ड की जानकारी दर्ज करना है | इसके बाद आगे बढ़ें पर क्लिक करना है |

पलायन का स्थान- किस भाग में वह राज्य , जिला, विकासखंड, तहसील, स्थान का नाम दर्ज करना है जहां पर आप पलायन कर रहे हैं

सदस्यों की जानकारी- इस भाग में उन सभी सदस्यों की जानकारी बारी -बारी से दर्ज करना है जो पलायन पर जा रहे हैं। नाम , पिता का नाम ,उम्र ,लिंग ,आधार नम्बर |


यदि ऐप में पलायन करने वाले श्रमिक का फोटो और आधार कार्ड मंगा जाता है, उस स्थिति में आपको परिवार के मुखिया का पासपोर्ट साइज फोटो अपलोड करना है और यदि आधार कार्ड अपलोड का ऑप्शन आता है तो आपको आधार कार्ड भी अपलोड करना है सभी जानकारी को पूरी तरह फेल करने के पश्चात अंत में आपको सबमिट कर देना है।

इस तरह आपके पलायन की सूचना छत्तीसगढ़ श्रम विभाग के पास चला जाएगा, यदि जहां आप पलायन पर गए हैं वहां पर  बंधक/आपात  जैसी स्थिति निर्मित हो जाती है तब शासन द्वारा आपको वापस लाने का प्रयास किया जाएगा।


उम्मीद है आज का यह जानकारी आपको पसंद आया होगा, छत्तीसगढ़ से हजारों लोग प्रतिवर्ष अन्य राज्यों में पलायन कर जाते हैं ऐसे में यह जानकारी पलायन करने वाले श्रमिकों के लिए बहुत ही उपयोगी साबित हो सकता है। इस जानकारी को अधिक से अधिक लोगों को जरूर पहुंचाएं। यदि पलायन की सूचना से जुड़े किसी भी प्रकार की परेशानी होती है तब आप एप्प में दिए गए फोन नंबर पर कॉल कर सीधे श्रम विभाग के अधिकारियों से बात कर सकते हैं।
 

Post a Comment

0 Comments